Jachcha-Laddu, Soth Laddu, Gond Laddu

जच्चा-लड्डू -Jachcha Laddu

जच्चा लड्डू नयी माँ को  दिया जाता है जिसे खाने से जच्चा (नयी माँ) को अंदुरुनी ताकत मिलती है और जच्चा (नयी माँ)  की  मासपेशियां मजबूत होती है  तथा जच्चा फिर अपनी पहले जैसी ताकत पा लेती है, इसे  बनाने के लिए जो सामग्री चाहिए वह मार्केट  में पंसारी या जड़ीबूटी आदि का सामान बेचते है उनके पास मिल जायेगा तो चलिए इसे बनाना शुरू करे-

जच्चा-लड्डू बनाने हेतु सामग्री:-

  1. सोंठ 200 ग्राम
  2. आमी हल्दी 200  ग्राम
  3. नागपुरी हल्दी 50 ग्राम
  4. पिपरी 50 ग्राम
  5. पीपराजरी 25 ग्राम
  6. अश्वगंधा  25 ग्राम
  7. सतावर  25 ग्राम
  8. कमरकस  25 ग्राम
  9. चमसुर (हालो)  25 ग्राम
  10. काली मुस्ली  25 ग्राम
  11. सालम मुस्ली  25 ग्राम
  12. सफेद मुस्ली  25 ग्राम
  13. करायल  25 ग्राम
  14. मेथी  25 ग्राम
  15. खसखस  25 ग्राम
  16. भोजजड़ी  25 ग्राम

Jachcha-Laddu, Soth Laddu, Gond Ladduजच्चा-लड्डू बनाने हेतु इन सामग्रियों को अपने हिसाब से ज्यादा या काम डाल  सकते है-

  1. काजू 500 ग्राम
  2. किशमिश  250 ग्राम
  3. बादाम 500 ग्राम
  4. छुआरा  250 ग्राम
  5. मखाना  75 ग्राम
  6. गोंद   50  ग्राम
  7. नारियल गोला 01
  8. चिरौजी 100 ग्राम
  9. पिस्ता 100 ग्राम
  10. अंजीर 100 ग्राम
  11. अखरोट गिरी 100 ग्राम
  12. मुनक्का 100 ग्राम
  13. पुराना गुड़ 1  किलो ( या अपने मीठापन के हिसाब से इसे काम या ज्यादा कर सकते है)
  14. शुद्ध देशी घी 01 1/2  किलो (सभी सामग्रियों को तलने  और लड्डू बनाने के लिए )

Jachcha-Laddu, Soth Laddu, Gond Ladduजच्चा-लड्डू बनाने की तैयारी (Preparation)

  1. सबसे पहले आप जच्चा-लड्डू के सभी  सामग्रियों को साफ़ कर लीजिये कही कंकड़ या कचरा न हो।

जच्चा-लड्डू में वे सामग्री जिन्हे सूखा भूनना  है:-

  1. आमी हल्दी को सबसे पहले भूनकर उसका पाउडर बना लीजिये या फिर मार्केट  से आमी हल्दी पाउडर ले सकते है। पाउडर को भी सूखा भूनना है।
  2. अब इसी प्रकार इसमें करायल , मेथीदाना और खसखस को एक-एक करके भूंज कर निकाल  लीजिये।

जच्चा-लड्डू में वे सामग्री जिन्हे घी में  भूनना  है:-

  1. अब कढ़ाई में थोड़ा घी (सामग्रियों को तलने  के लिए ) डालिये और एक-एक सामग्रियों (सोंठ, खड़ी  नागपुरी हल्दी, पिपरी, पीपराजरी, अश्वगंधा, सतावर, कमरकस , चमसुर (हालो), काली मुस्ली,सालम मुस्ली,सफेद मुस्ली, भोजजड़ी और गोंद) को माध्यम आंच में तलकर निकालते  जाइये।
  2. उसके पश्चात काजू, बादाम, छुहारा, चिरौंजी, अखरोट, मखाना, और पिस्ता को भी माध्यम आंच में तलकर निकाल लीजिये।

जच्चा-लड्डू  बनाने की तैयारी :-

  1. नारियल गोला को किसनी की सहायता के बारीक़ किस लीजिये और गुड़ को खलबट्टें की मदद से बारीक़ तोड़ लीजिये।
  2. अब  काजू, बादाम, छुहारा, चिरौंजी, अखरोट, मखाना, को भी तलने  के पश्चात् उसी खलबट्टे में थोड़ा तोड़  लीजिये ( याद रखिये इन्हे ज्यादा बारीक़ नहीं करनी है) .
  3. अब बाकी सामग्रियों (सोंठ, खड़ी नागपुरी हल्दी, पिपरी, पीपराजरी, अश्वगंधा, सतावर, कमरकस , चमसुर (हालो), काली मुस्ली,सालम मुस्ली,सफेद मुस्ली, भोजजड़ी और गोंद) को मिक्सर जार में एक-एक करके बारीक पीस लीजिये।

जच्चा-लड्डू बनाने  की विधि:-

  1. एक बड़ा बर्तन लीजिये और उसमे उक्त सभी सामग्रियां जैसे आमी हल्दी पाउडर, गुड़  और सभी सामग्रियां जो कूटकर और मिक्सचर में पीसे हुए है उसमे एक साथ रखते जाईये।
  2. अब उसमे आवश्यकता अनुसार घी डालकर मिलाइये।
  3. जब यह मिक्सचर तैयार हो जाये ( रोटी बनाने के लिए जो आटा  तैयार करते है उस तरह)  तो  हाथ में थोड़ा लेकर नींबू के आकार या उससे थोड़ा बड़ा गोल लड्डू बनाकर इसे एक प्लेट या थाली में रखते जाईये।
  4. अब आपका जच्चा लड्डू तैयार है इसे आप एक डिब्बे में रख दीजिये और नई मदर को प्रातःकाल एक और शाम में एक-एक  दे सकते है।

सुझाव :-

  • याद रखिये जच्चा-लड्डू हमारे शरीर के लिए गर्म होता है इसलिए जच्चा को  एक दिन में दो से ज्यादा नहीं खाना है।
  • इसे नयी माँ सुबह और शाम खाली पेट  एक गिलास दूध के साथ ले सकते है।
  • ठण्ड में यह नयी माँ को   बहुत ज्यादा फायदा करता है।
  • यदि आप चाहो तो इसे एक गिलास दूध में एक लड्डू को तोड़कर डालकर उसे 5 मिनट पका दे और फिर इस दूध को मसाला दूध की तरह ले।
  • यदि आपका नार्मल डिलीवरी हुआ है तो आप इसे  छठवे  दिन से ले सकते है पर यदि आपका ऑपरेशन से डिलीवरी हुआ है तो इसे आप तुरंत न लेकर  आप बच्चा होने के  डेढ से दो माह पश्चात ही लीजिये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *