डायट प्लान-Diet plan

 डायट प्लान कैसे चुने

वजन कम करना एक चुनौतीपूर्ण  काम है।  वजन न तो एक दिन में बढ़ता है और न ही एक दिन में काम हो सकता है। आज मैं  5 ऐसे डायट प्लान लायी हूँ जिसमें से आप एक चुनकर आसानी से अपने बड़े वजन पे काबू पा सकते है और आपका स्लिम दिखने का सपना साकार हो सकता है। वजन कम करने के लिए हमें अपने जीवनशैली में बदलाव करना होगा। तभी हम अपने बढ़े हुए वजन को कम कर सकते है।  इसके लिए आपको सही डायट प्लान फॉलो करना होगा, जो आपके वजन को कम करने का काम करेगा।

डायट प्लान कई प्रकार के होते है और हमारा शरीर भी अलग-अलग प्रकार का होता है, जो डायट प्लान एक व्यक्ति को सूट करे जरुरी नहीं वह दूसरे व्यक्ति को भी सूट करे। हमें पता कैसे चले की कौन से डायट प्लान हमें सूट करेगा। इसके लिए डायट एक्सपर्ट लोगो की जरूरतों को ध्यान में रखकर अलग-अलग तरह के डायट प्लान लेने की सलाह देते है। किस व्यक्ति के लिए कौन सा डायट प्लान सही है इसके बहुत से चरण होते है।  आपके लिए कौन से डायट प्लान सही रहेगा ? इसका फैसला करने से पहले आप यह जान ले की अभी कौन-कौन से डायट प्लान चर्चे में है ?

1. कीटो डायट प्लान

 

कीटोजेनिक या कीटो डायट प्लान हाई फैट, लो कार्ब और प्रोटीन पर बेस्ड है।  इस डायट प्लान को फॉलो करने से व्यक्ति का शरीर कीटोसिस स्टेज में पहुंच जाता है, जिससे शरीर ऊर्जा प्राप्त करने के लिए शरीर में एकत्रित फैट का उपयोग करने लगता है।  इससे वजन बहुत ही जल्दी कम होना शुरू हो जाता है।  मगर इस डायट प्लान को लगातार फॉलो करना पड़ता है, नहीं तो यह डायट प्लान असर नहीं करेगा। इसमें कोई ऐसा दिन नहीं होता है जब आप सामान्य खाना खा सको।  कीटो डायट टाइप 2 डायबिटीज़ से पीड़ित व्यक्तियों  ठीक है। टाइप 1 और किसी अन्य मेटाबॉलिक डिसऑर्डर  पीड़ित व्यक्तियों को यह डायट प्लान फॉलो नहीं  चाहिए। चूँकि इसमें कार्बोहाइड्रेस खाने की मनाही होती है अतः इसका पालन करना थोड़ा कठिन  हैं।

2. एचसीजी डायट प्लान

 

यह डायट  प्लान भी बहुत ज्यादा चर्चे में है, क्योकि इस डायट प्लान से तेज़ी से वजन काम होता है। इस डायट प्लान को 03  फ़ैज़ में फॉलो किया जाता है।

  • पहले फैज़ को लोडिंग फैज़ कहा जाता है। इसमें डायट एक्सपर्ट डायटिंग करने वाले व्यक्ति को हाई कैलोरी डायट खाने के लिए कहा जाता है, ताकि उनका शरीर आने वाले कठिन फैज़ के लिए तैयार हो सके।
  •   दूसरा फैज़ जिसे कोर फैज़ कहा जाता है, यह बहुत महत्वपूर्ण होता है. इस दौरान दिनभर में सिर्फ 500 कैलोरीज़ ग्रहण करना होता है।
  • तीसरी फैज़ में 800 से 1000 कैलोरीज़ तक ग्रहण किया जा सकता है।

3. एट्किंस डायट प्लान

 

यह तीसरा लोकप्रिय डायट प्लान है। इसे वजन कम करने के इच्छुक व्यक्ति काफी समय से करते आ रहे है।  इसे भी एचसीजी डायट प्लान की तरह फैज़ में फॉलो किया जाता है।  इस प्लान में लो कार्ब -हाई प्रोटीन डायट का पालन अलग-अलग फैज़ में किया जाता है।

पहले फैज़ में दिनभर में सिर्फ 20 ग्राम कार्बोहाइड्रेट खाने को कहा जाता है।  फिर धीरे- धीरे कार्ब की मात्रा बढ़ायी जाती है।  यह डायबिटिक और इन्सुलिन लेने वाले व्यक्तियों के लिए सही नहीं होता है, क्योकि इसमें बहुत काम कार्बोहइड्रेट खाने की इजाज़त होती है।  इसी प्रकार ज्यादा प्रोटीन लेने के प्रावधान होने की वजह से किडनी की बीमारी से पीड़ित व्यक्तियों के लिए यह सही नहीं होता है।

4. मेडिटरेनियन डायट :-

यह  बहुत ज्यादा फेमस डायट प्लान है, इसे अपनाने से न सिर्फ वजन कम होता है, बल्कि इसके बहुत  बेनिफिट भी  हैं।  इस डायट प्लान में भूमध्यसागरीय क्षेत्र में रहने वाले लोगो के खान-पान को अपनाया जाता है। इसे फॉलो करने वाला व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा फल, सब्जियां , ऑलिव ऑयल ,नट्स, दाल, बीन्स  और मछलियों को अपने भोजन में शामिल करता है। इसमें दूध से बने प्रोडक्ट नहीं ली जाती है।

4.  ब्लड टाइप डायट प्लान

ब्लड ग्रुप  डायट में अपने शरीर के ब्लड के हिसाब से खाना खाना होता है। यदि आपका ब्लड ग्रुप  बी  है तो गेंहूँ, बादाम, कॉर्न, टमाटर और तिल  आदि की मात्रा घटा दी जाती है और यदि ओ ब्लड ग्रुप है तो आपको हाई प्रोटीन डायट लेना होता है।  इसी तरह अलग-अलग ग्रुप के अलग-अलग डायट प्लान होते है।  ऐसा मान्यता है की इस डायट प्लान को फॉलो करने से सही तरीके से पचता है और वजन भी आसानी से घटने लगता है, पर इस डायट प्लान में जंक फ़ूड खाने की इजाजत नहीं होती है।

5. डैश डायट प्लान

यह एक लोकप्रिय डायट प्लान है जो हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित के लिए है। इस डायट प्लान में ब्लेड प्रेशर से पीड़ित व्यक्ति तरीके से वेटलॉस करने में मदद कराती है। इस डायट में खाने में नमक की मात्रा कम कर दी जाती है। कम नमक न सिर्फ ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है बल्कि मोटापा को कम करने और दिल की बीमारियों से भी लड़ने में हमारी मदद करता है।  इसमें ज्यादा से ज्यादा फल और सब्जियों को खाने की सलाह दी जाती है।

कैसे चुने  अपना डायट प्लान

आप डायट प्लान चुनने से पहले देख ले की कौन से डायट प्लान  सूट करेगा। इसके लिए आप किसी डायटीशियन से सलाह ले  अपना डायट प्लान चुन सकते है, क्योकि डायटीशियन डायट के एक्सपर्ट होते हैं वे आपके शरीर को जो सूट करेगा वही डायट प्लान आपको अपनाने की सलाह देंगे।

  • कोई भी डायट प्लान चुने आप यह देख ले की क्या आप उसे फॉलो कर पाएंगे। कई लोग बड़े उत्साह से बिना सोचे समझे अपने मन से डायट प्लान लेना शुरू तो कर देते है मगर कुछ समय के बाद उसे छोड़ देने है, इसलिए मेरी राय है आप जो भी डायट प्लान चुने उसे अच्छे से समझ ले फिर उसे अपनाये।
  • आप ऐसा प्लान चुने जो फ्लैक्सिबल हो, इसका मतलब यह है की ऐसा प्लान चुने जिसमे आप कभी कभार खाने का विकल्प हो।
  • ऐसा प्लान चुने जो आपका वजन तो घटाए साथ ही वह आपके शरीर को उससे कोई नुकसान न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *